33 C
Patna
August 26, 2019
उत्तर प्रदेश जुर्म मुख्य समाचार

विधायक ने पूरा परिवार ख़त्म कर दिया, बेटी से रेप के बाद पति का क़त्ल कर दिया

unnao rape victim accident
बेटी के साथ रेप किया पति को मार दिया देवर को जेल भेज दिया विधायक ने मेरा घर उजाड़ कर रख दिया। दुष्कर्म पीड़िता की माँ ने लगाए विधायक पर संगीन आरोप।

उत्तर प्रदेश (Unnao Rape Victim Accident)। उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की माँ ने विधायक पर सांगेन आरोप लगाते हुए कहा है पहले बेटी के साथ बलात्कार किया मेरे पति को मार दिया उसके बाद देवर को जेल की सलाखों के पीछे डाल दिया अब मेरी बेटी की जान के पीछे पड़ा हुआ है। दुष्कर्म पीड़िता कार एक्सीडेंट में काफी नाजुक हालत में अस्पताल में भर्ती हैं उसकी माँ को भी उससे मिलने नहीं दिया जा रहा है। पीड़िता की माँ ने भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर आरोप लगाते हुए कहा है इन सबके पीछे विधायक का हाथ है।

यह भी पढ़ें : – मंगेतर ने बलात्कार कर शादी से किया इंकार सदमे से पीड़िता की आवाज गयी

Unnao Rape Victim Accident

एक्सीडेंट के बाद केजीएमयू का ट्रामा सेंटर राजनीति का अखाड़ा बनकर रह गया है। कई बड़े नेता राजनितिक फायदे के लिए पीड़िता की माँ को साथ देने का भरोसा दिला रहे हैं। गौरतलब है की कार और ट्रक की भयानक टक्कर में गंभीर रूप से घायल दुष्कर्म पीड़िता को लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया है उसकी हालत बेहद नाजुक बतायी जा रही है।

यह भी पढ़ें : – बंदूक की नोक पर उतरवाए थे लड़कियों के कपड़े, जमीन पर पटककर खींचे न्यूड फोटो

पीड़िता की माँ ने बताया इलाज के लिए डॉक्टर बाहर से दवाएं मांगा रहे हैं अगर बेहतर इलाज नहीं मिला तो उनकी बेटी की जान भी जा सकती है। अगर मेरे देवर को पुलिस रिहा नहीं करती है तब तक घर से लाश उठाने नहीं दूंगी। मैं अब अकेली रह गयी हु कैसे बच्चों का पालन पोषण कार पाउंगी। केस वापस लेने के लिए हमें लगातार जान से मार देने की धमकी दी जा रही है।

यह भी पढ़ें : – अप्राकृतिक सेक्स करते हैं देवर, पति-ससुर देते हैं साथ, बिगड़ रही तबीयत

दुष्कर्म पीड़िता की चचेरी बहन ने बताया इस हादसे में मेरी माँ की जान भी चली गयी। चचेरी बहन ने रोते हुए विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को इस घटना का जिम्मेदार बताया। उस विधायक ने मेरी बहन की ज़िन्दगी तो बर्बाद की ही साथ में मेरी माँ की जान भी ले ली।

हादसा या साजिश

कार और ट्रक के बीच हुए हादसे को कई लोग साजिश भी मान रहे हैं। पीड़िता और उसके परिवार को सुरक्षाकर्मियों की मौजूदगी में धमकाए जाने के वावजूद आला अधिकारियों ने कोई एक्शन क्यों नहीं लिया यह भी सवालों के घेरे में हैं। इस हादसे में गंभीर रूप से ज़ख़्मी पीड़िता और मुख्या गवाह मृतका चाची का सीबीआई के समक्ष बयान दर्ज होने थे।

Loading...

संबंधित ख़बरे

7 comments

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy