33 C
Patna
August 26, 2019
उत्तर प्रदेश मुख्य समाचार

रेप आरोपी भाजपा विधायक के 15 ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी

unnao rape survivor accident case
उन्नाव रेप पीड़िता हादसे के 7वे दिन भी वेंटिलेटर पर, सीबीआई ने रेप आरोपी कुलदीप सेंगर से जेल में 6 घंटे पूछ-ताछ की।

लखनऊ (Unnao Rape Survivor Accident Case)। ट्रक और कार की टक्कर में ज़िन्दगी और मौत के बीच झूल रही उन्नाव रेप पीड़िता की हालत अभी भी नाजुक बनी हुई है। पीड़िता को हादसे के 7वे दिन भी वेंटिलेटर पर रखा गया है साथ ही निमोनिया भी हो गया है। रेप पीड़िता के साथ हुए हादसे की जांच कर रही सीबीआई ने इस मामले में रेप के आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर से सीतापुर जेल में 6 घंटे पूछ-ताछ की है। उसके अगले दिन विधायक के 15 ठिकानों पर छापेमारी की गयी।

यह भी पढ़ें : – पोर्न फिल्म ऑफर की गयी थी मुझे अर्धनग्न फोटोशूट होने के बाद बिच में ही भाग गयी थी मैं – कंगना रनौत

Unnao Rape Survivor Accident Case

हादसे की जांच के लिए सीबीआई की टीम तीसरी बार घटनास्थल पर जांच करने पहुंची। घटनास्थल के आस-पास दुकानदारों के बयान दर्ज किए गए। आपको बता दें की पीड़िता की कार में टक्कर मारने वाले ट्रक के ड्राइवर और खलासी तीन दिनों के रिमांड पर हैं। सीबीआई ने पूछ-ताछ के लिए ट्रक के मालिक देवेंद्र किशोर पाल को भी अपने ऑफिस में बुलाया था। ट्रक मालिक ने कहा की वह बेकसूर है उसे बेवजह इस मामले में घसीटा जा रहा है। वह रेप आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को जानता भी नहीं है और रेप पीड़िता से भी उसकी कोई दुश्मनी नहीं थी।

यह भी पढ़ें : – विधायक ने पूरा परिवार ख़त्म कर दिया, बेटी से रेप के बाद पति का क़त्ल कर दिया

सीबीआई ने जेल में कुलदीप सिंह सेंगर से मिलने आये लोगों की वीडियो फुटेज और लिस्ट मंगाई है। जेल के आस पास मोबाइल टावरों से संदिग्ध कॉल करनेवाले की जानकारी जुटाई जा रही है। सूत्रों के अनुसार रविवार को भी विधायक से सीबीआई पूछ-ताछ कर सकती है।

यह भी पढ़ें : – जुआरी पति ने पत्नी को लगाया दांव पर, जीतने पर दोस्तों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

28 जुलाई को ट्रक और कार की टक्कर में गंभीर रूप से ज़ख़्मी हुई पीड़िता अभी भी वेंटिलेटर पर है, और अभी भी स्थिति नाजुक बनी हुई है। डॉक्टरों ने बताया पीड़िता के फेफड़ों में जमा डेढ़ लीटर खून पाइप के जरिये निकाला गया है। इससे संक्रमण फ़ैलाने की संभावना फिलहाल के लिए ख़त्म हो गयी है, लेकिन अब उसे निमोनिया हो गया है। पीड़िता के अभी भी बेहोश रहने का डॉक्टर कारण पता लगाने की कोशिश में जुटे हुए हैं।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy