30 C
Patna
December 8, 2019
State News नई दिल्ली मुख्य समाचार राजनीती

राज्यपाल कोश्यारी के जरिये महाराष्ट्र में लोकतंत्र ख़त्म किया भाजपा ने – सोनिया गांधी

Sonia gandhi statement

नई दिल्ली। महाराष्ट् में सरकार गठन (Maharashtra politics) को लेकर हुए घटनाक्रम पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia gandhi statement) ने पीएम नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह पर तीखी टिपण्णी की है। गुरूवार को संसदीय दल की बैठक में सोनिया गांधी ने कहा महाराष्ट्र में राज्यपाल कोश्यारी के जरिये भाजपा ने लोकतंत्र को ख़त्म करने का शर्मनाक काम किया। शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस गठबंधन को सरकार बनाने से रोकने के लिए भाजपा ने हरसंभव कोशिश की, इसमें राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भी भाजपा का पूरा साथ दिया। राज्यपाल ने देवेंद्र फडणवीस को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री की शपथ दिलवा दी जो कहीं से भी तर्कसंगत नहीं था।

यह भी पढ़ें : – वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए संजू सैमसन टीम में, शिखर धवन हुए बाहर

Sonia gandhi statement

गौरतलब है की राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने 23 नवंबर की सुबह 8 बजे भाजपा के देवेंद्र फडणवीस को मुख्यमंत्री और राकांपा के अजित पवार को उप-मुख्यमंत्री की शपथ दिलाई थी। इससे पहले प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लागू था, जिसे सुबह 5:17 बजे हटा दिया गया था। राज्यपाल के इस फैसले के खिलाफ शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। 26 नवम्बर को नाटकीय रूप से देवेंद्र फडणवीस ने पर्याप्त बहुमत ना जुटा पाने का हवाला देकर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया।

यह भी पढ़ें : – हेडमास्टर ने महिला टीचर को भेजे अश्लील फोटो-वीडियो, पिटाई के बाद बोला माफ़ कर दो

सोनिया गांधी ने आगे कहा – भाजपा – शिवसेना गठबंधन टूटने के पीछे भाजपा का घमंड और अतिआत्मविश्वास था। महाराष्ट्र में सरकार बनाने में नाकाम रहें पर भाजपा ने हमारे गठबंधन (शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस) को तोड़ने की पूरी कोशिश की लेकिन वह कामयाब नहीं हुए, बल्कि हमारा गठबंधन और मजबूत हुआ।

यह भी पढ़ें : – लोकसभा में धक्का मुक्की कर रहे विधायकों को स्पीकर ने चेताया कहा – 5 साल के लिए..

संसदीय दल की बैठक को सम्बोधित कर रही सोनिया गांधी ने भाजपा पर जमकर हमला बोला, उन्होंने कहा मोदी सरकार ने सत्ता हासिल करने के लिए राजनितिक मर्यादा को तार-तार कर दिया। देश आर्थिक संकट से गुजर रहा है, लेकिन मोदी सरकार देश की समस्यायों का हल ढूंढने में नाकाम रही है। आर्थिक संकट की वजह से किसान, व्यापारी और दुकानदार बेहद तनाव में हैं, विकास दर लगतार निचे जा रहा है। नया निवेश नहीं हो रहा है, लोगों को रोजगार नहीं मिल रहा है। लोगों के खरीदने की क्षमता घट रही है लेकिन इनसे निपटने की बजाय मोदी सरकार आंकड़ों में हेरफेर करने में व्यस्त है।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...