30 C
Patna
December 8, 2019
State News नई दिल्ली मुख्य समाचार राजनीती

लोकसभा में धक्का मुक्की कर रहे विधायकों को स्पीकर ने चेताया कहा – 5 साल के लिए..

Maharashtra issue

नयी दिल्ली। लोकसभा में कांग्रेस सांसदों हबी ईडन और पीएन प्रथापन और लोकसभा के मार्शल के बीच हुए धक्का – मुक्की से व्यथित लोकसभा स्पीकर ने विधायकों को 5 साल के निलंबन की चेतावनी दे डाली। ख़बरों के मुताबिक़ अगर भविष्य में विधायकों का ऐसा ही व्यवहार रहता है तो उन्हें निलंबित किया जा सकता है। उनके व्यवहार से लोकसभा स्पीकर बेहद दुखी हैं। दोनों विधायक महाराष्ट्र (Maharashtra issue) मुद्दे को लेकर विरोध जता रहे थे, लोकसभा अध्यक्ष ने दोनों को बाहर जाने का आदेश दिया, उसी दौरान मार्शल से उनकी धक्का – मुक्की हो गयी। बीजेपी नेताओं ने इसे काला दिन करार दिया वहीँ कांग्रेस ने इस कार्रवाई को अनुचित करार दिया।

यह भी पढ़ें : – दोस्ती में कुश्ती ने बिहार में हुए उपचुनाव में NDA की लुटिया डुबोई

Maharashtra issue

रिपोर्ट के अनुसार सदन की कार्यवाही शुरू होते ही दोनों विधायक महाराष्ट्र मुद्दे को लेकर हंगामा करने लगे। कांग्रेस के विधायक हाथ में बैनर और पोस्टर लेकर सदन के वेल में आकर हंगामा करने लगे, जिसपर लोकसभा स्पीकर ने दोनों को शांत होकर अपनी सीट पर जाने को कहा। इसके वाबजूद दोनों ने हंगामा करना बंद नहीं किया। आखिर में लोकसभा स्पीकर ने दोनों का नाम लेते हुए सदन से बाहर जाने के लिए कह दिया। दोनों ही विधायक केरल से कांग्रेस के टिकट पर जीतकर आये हैं, दोनों महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार की सरकार बनाने के तरीके को लेकर अपना विरोध जता रहे थे।

यह भी पढ़ें : – पैसों के लिए नाबालिग बहन को 70 हजार में बेचा, खरीदने वाले ने 3 महीने तक बांधकर किया दुष्कर्म

लेकिन दोनों का प्रदर्शन करने का तरीका संसद की मर्यादा के खिलाफ था, इसीलिए लोकसभा स्पीकर ने उन्हें सदन से बाहर जाने को कह दिया। उसके बाद भी जब दोनों सदन से बाहर नहीं गए तो मार्शल को दोनों विधायकों को बाहर करने का आदेश दिया, उसी दौरान मार्शल के साथ दोनों विधायक धक्का – मुक्की करने लगे। इससे व्यथित होकर लोकसभा स्पीकर ने सदन स्थगित कर दिया। बाद में स्पीकर ने अपने चेंबर में सभी दलों के नेताओं के साथ बैठक की, बताया जाता है बैठक में कांग्रेस के नेताओं का रवैया बेहद खराब था। लोकसभा स्पीकर ने चेतावनी देते हुए कहा अगर विधायकों का व्यवहार सदन की गरिमा के अनुकूल नहीं रहता है तो 5 साल के लिए निलंबित भी किया जा सकता है।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...